रक्षाबंधन पर राखी कोरियर कैसे करें Rakhi Courier Kaise Karen 2023रक्षाबंधन पर राखी कोरियर कैसे करें Rakhi Courier Kaise Karen 2023

Rakhi Courier Kaise Karen राखी (रक्षा बंधन) का त्योहार भारत में सबसे खुशी के त्योहार में से एक है। भारतीय धार्मिक संस्कृति के अनुसार रक्षाबंधन का पर्व श्रावण मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। यह पर्व भाई-बहन को स्नेह के बंधन में बांधता है। इस दिन बहन अपने भाई के माथे पर टीका लगाती है और रक्षा का बंधन बांधती है, जिसे राखी कहा जाता है। यह एक हिंदू और जैन त्योहार है जो हर साल श्रावण महीने की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। श्रावण (सावन) में मनाए जाने के कारण इसे श्रावणी (सवानी) या सालेर्नो भी कहा जाता है।

रक्षाबंधन में राखी या रक्षासूत्र का सबसे ज्यादा महत्व है। राखी में कच्चे धागे से लेकर रंगीन कलाकृतियां, रेशम के धागे जैसे सस्ते सामान और सोने या चांदी जैसी महंगी चीजें हो सकते हैं। रक्षाबंधन भाई-बहन के रिश्तों का प्रसिद्ध त्योहार है, रक्षा का अर्थ है सुरक्षा और बंधन का अर्थ है बंधन। रक्षाबंधन के दिन बहनें अपने भाइयों की तरक्की के लिए भगवान से प्रार्थना करती हैं। रक्षा बंधन (Raksha Bandhan Per Rakhi Courier Kaise Karen ) के दिन बहन अपने भाई के हाथ पर राखी बांधती है और उसकी लंबी उम्र की दुआ करती है.

राखी भाइयों और बहनों का स्नेही बंधन

रक्षा बंधन का त्योहार सभी भाइयों और बहनों द्वारा साझा किए गए स्नेही बंधनों को बढ़ाता है। उनके सभी छोटे-छोटे झगड़े समाप्त हो जाते हैं, और वे एक दूसरे के साथ फिर से जुड़ जाते हैं। रक्षा बंधन (Rakhi Courier Kaise Karen in Hindi) भाइयों और बहनों के दिलों में प्यार का त्योहार है।

राखी के लिए बाजार सज चुके हैं। दुकानों पर राखियों, तिलक के पैकेट और सोने की शॉपिंग की जा रही है। शहर में कई इलाकों में राखियों की दुकानें सजी हैं। इन सबसे हटकर जिन बहनों के भाई शहर से दूर हैं वो ऑनलाइन राखी भेज रहीं हैं। अपने शहर में भी ऑनलाइन गिफ्ट और राखी भेजने की सुविधा है, जहां अभी से बुकिंग शुरू हो गई है।

लेकिन सबसे बड़ी बात यह है कि भाई या बहन जो एक ही शहर में नहीं हैं, वे इस रक्षा बंधन को कैसे मनाएंगे। तो आज हम आपको राखी (Rakhi Courier Kaise Karte Hain) को कुरियर करने का तरीका बताने जा रहे हैं ताकि जो भाई-बहन शहर में नहीं हैं वे भी इस त्योहार को मना सकें. आप अपने भाई को देश के किसी भी कोने में कुरियर से राखी भेज सकते हैं। तो आइए जानते हैं कैसे करें राखी कोरियर (How to Courier Rakhi in Hindi)।

राखी कूरियर 2023 कैसे करें (Rakhi Bhejne Ka Tarika) | कूरियर द्वारा राखी कैसे भेजें आसान तरीका

राखी कूरियर का आसन तारिका: जब आप ऑनलाइन कूरियर सेवा का उपयोग करते हैं, तो राखी भेजना बहुत आसान है। (Rakhi Courier In Hindi) अगर आप इसके बारे में नहीं जानते हैं तो कोई समस्या नहीं है। हम आपको बतायगे कि राखी को कुरियर कैसे किया जाता है, जिससे राखी भेजना आसान हो जाएगा।

  1. पार्सल में पैक करें राखी
    राखी को कुरियर से भेजने से पहले आप जिस राखी को भेजना चाहते हैं उसे एक डिब्बे में पैक कर लें और यदि आप कोई पत्र भेजना चाहते हैं तो उसे भी एक लिफाफे में डाल दें।
  2. अपने भाई का पता लिखें

भाई का नाम (प्राप्तकर्ता का नाम)
पता – भाई का पता (रिसीवर का पता)
पिन कोड – पिन कोड जहां आपका भाई रहता है (रिसीवर एड्रेस पिन कोड)
मोबाइल नंबर – आपके भाई का फोन या मोबाइल नंबर (रिसीवर मोबाइल नंबर)

  1. अपना पता दर्ज करें
    अब आपको नीचे दिए गए स्थान में अपना पता दर्ज करना होगा, जैसा कि नीचे दिए गए उदाहरण में दिखाया गया है:

From – अपना नाम लिखें
पता – अपना पूरा पता दर्ज करें
फ़ोन नंबर – अपना फ़ोन या मोबाइल नंबर दर्ज करें

  1. डॉकेट नंबर प्राप्त करें
    अब आपको अपनी राखी अपने शहर के किसी भी कुरियर की दुकान पर ले जाकर उन्हें देनी है। जब आप अपनी राखी को कूरियर की दुकान पर ले जाते हैं, तो वहां का व्यक्ति कागज की एक पर्ची पर एक नंबर लिखेगा। इस नंबर को डॉकेट नंबर कहा जाता है।
लिफाफे पर पता कैसे लिखें – Address Kaise Likhe

लिफाफे पर पता लिखने का तरीका आपके लिखने के उद्देश्य और प्रयोजन पर निर्भर करेगा। यहां कुछ सामान्य और मान्यता प्राप्त तरीके हैं जिन्हें आप अपने लिफाफे पर पता लिखने के लिए अपना सकते हैं:

सामान्य तरीका:

  1. ऊपर की ओर बड़े अक्षरों में डिफॉल्ट पता लिखें। यह पता अक्षरों को स्पष्ट और पढ़ने में आसान बनाता है।
  2. पते की शुरुआत में अपने नाम का प्रयोग करें, ताकि जिन्होंने लिफाफा खोला हो, वे आसानी से पहचान सकें कि लिफाफा किसके लिए है।
  3. पते को ब्लॉक अक्षरों में लिखें, जिससे वह स्पष्ट और सुविधाजनक दिखे।
  4. पते के अंत में शहर, पिनकोड और देश की जानकारी दें, ताकि लिफाफा सही स्थान तक पहुँच सके।

मान्यता प्राप्त तरीका:

  1. पता लिखने की शुरुआत: लिफाफे पर पता लिखते समय ऊपर की ओर से शुरू करें। आमतौर पर, पते की शुरुआत में नाम आता है, जैसे:श्रीमान/श्रीमती [आपका नाम]
  2. मुख्य पता: अपने मुख्य पते को लिखें। यहां आपके घर का पता आता है:[आपका पता]
  3. शहर, पिनकोड और देश: अपने शहर, पिनकोड और देश की जानकारी दें:[आपका शहर, पिनकोड, देश]
  4. अपनी हस्ताक्षर: आपकी खुद की हस्ताक्षर डालें, यह लिफाफे पर पता लिखने का एक मान्यता प्राप्त तरीका है।

टिप्स:

  • पते को स्पष्टता के साथ लिखने का प्रयास करें।
  • आवश्यक होने पर शहर का नाम अंग्रेजी में भी लिखें, जिससे वित्तीय निम्नता की स्थिति नहीं हो।
  • यदि आपका पता अंग्रेजी में है, तो उसे उसी भाषा में लिख सकते हैं।

उदाहरण:

श्रीमान/श्रीमती [आपका नाम] [आपका पता] [आपका शहर, पिनकोड, देश] [आपकी हस्ताक्षर]

यदि आप अपने पते को हिंदी में लिखने में किसी भी प्रकार की समस्या या शंका महसूस करते हैं, तो आप किसी प्रोफेशनल की सलाह ले सकते हैं।

भाई को राखी भेजने के लिए पत्र | Bhai ko Rakhi Bhejne ke liye letter Hindi

Rakhi Bhejne ka Tarika

डॉकेट नंबर से आप ट्रैक कर सकते हैं कि राखी कोरियर कहां पहुंच गया है। यह डॉकेट नंबर बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि यदि आपका राखी कूरियर आपके दिए गए पते पर नहीं पहुंचता है, तो आप इस डॉकेट नंबर को कूरियर की दुकान पर दिखाकर पता कर सकते हैं और पूछ सकते हैं । इसे तब तक अपने पास रखें जब तक आपका राखी का कूरियर आपके भाई तक न पहुंच जाए।

राखी कूरियर मुश्किल नहीं है लेकिन बहुत से लोग नहीं जानते कि राखी को कैसे कूरियर करना है और इसके बारे में उलझन में हैं। तो दोस्तों अब आप जान ही गए होंगे कि राखी कूरियर कैसे करता है (Rakhi Courier Kaise Karte Hain 2023 Me)

रक्षाबंधन पर राखी कोरियर कैसे करें

विदेश में राखी को कुरियर कैसे करें। विदेश में राखी को कुरियर कैसे करें

यदि आप भारत से दूसरे देश में राखी कूरियर भेजने के बारे में चिंतित हैं, तो हम आपको भारत में इंटरनेशनल स्पीड पोस्ट (Rakhi Courier Kaise Karen ) सेवाओं का उपयोग करने का सुझाव देना चाहेंगे। यह कूरियर सेवा सबसे तेज, सबसे सस्ती, सबसे सुरक्षित और सबसे अधिक लागत प्रभावी है।

विदेश में राखी कूरियर कैसे करें विदेश में राखी कूरियर करना अपने देश में राखी कूरियर सेवा का उपयोग करने जैसा है। अंतर केवल इतना है कि सीमा शुल्क निकासी और पैकेजिंग के संबंध में कुछ नियम हैं।

राखी कूरियर को पहुंचने में कितने दिन लगते हैं? रक्षा बंधन 2023

राखी कूरियर को पहुंचने में कितने दिन लगते हैं: राखी कूरियर कब आएगा यह पार्सल बुक करते समय आपके द्वारा चुने गए उत्पाद पर निर्भर करता है, जैसे कि यह कितना बड़ा या छोटा है और इसका वजन। साथ ही यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि राखी कोरियर कहां भेजा जा रहा है। Rakhi Courier आमतौर पर 2 से 5 व्यावसायिक दिनों के भीतर भेज दिया जाता है।

राखी कूरियर को कैसे ट्रैक करें (Rakhi Courier Tracking)

Rakhi Courier Tracking के लिए आपके पास कूरियर ट्रैकिंग नंबर होना चाहिए तभी आप राखी कूरियर को ट्रैक कर पाएंगे। राखी को कुरियर करते समय यह नंबर मोबाइल या ईमेल पर आता है।

  1. सबसे पहले आपको Courier वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. इसके बाद कूरियर सेलेक्ट करें।
  3. जिस कूरियर को आपका कूरियर भेजा गया है। उस विकल्प को चुनें।
  4. ट्रैक बटन दबाएं।
राखी कूरियर कंपनियां | राखी कूरियर डिलीवरी कंपनी सूची

यदि आप राखी कूरियर भेजना चाहते हैं, तो आप नीचे सूचीबद्ध किसी भी कंपनी के माध्यम से राखी को कूरियर कर सकते हैं:

  1. India Post (Indian Postal Service)
  2. Mark Courier
  3. Madhur Courier
  4. Professional Courier
  5. DTDC Courier
  6. Blue Dart
  7. Delhivery Courier
  8. Xpressbees Courier
  9. Shree Maruti Courier
  10. Triputi Courier
भारतीय डाकघर ने की अनूठी पहल: Rakhi Post Kaise Kare

मानसून को देखते हुए भाई-बहन के पावन बंधन के पर्व राखी पर भारतीय डाकघर ने अनूठी पहल की है। पोस्ट ऑफिस से बहनों द्वारा भेजी गई राखी को मानसून की बारिश में भीगने से बचाने के लिए पोस्ट ऑफिस वाटरप्रूफ लिफाफा लेकर आया है.
इन लिफाफों की वजह से बहनों द्वारा अपने भाइयों को भेजी गई राखी अब गीली नहीं होगी। डाकघर की इस अनूठी पहल की हर कोई तारीफ कर रहा है। अब बारिश भी हुई तो बहनों की राखी पानी में खराब नहीं होगी. अब विदेश में भाइयों को समय पर राखी पहुंचाई जाएगी। राखी से पहले डाक विभाग ने रक्षा बंधन पर बहनों को वाटरप्रूफ लिफाफे भेंट किए।

Kaise Kare वाटरप्रूफ लिफाफा में Rakhi Post

अब भाई-बहन वाटरप्रूफ लिफाफे में सुरक्षित राखी भेज सकेंगे। भाइयों को राखी पहुंचाने में किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं होगा। वहीं भाइयों के प्रति बहनों के प्रेम को देखते हुए बहनों को इसके लिए मात्र 10 रुपये देने होंगे, यह वाटरप्रूफ लिफाफा किसी भी डाकघर में उपलब्ध होगा.

rakhi bhejne ka tarika
लिफाफे पर राखी लिखे

डाकघरों में राखी भेजने के लिए विशेष लिफाफों की बिक्री शुरू हो गई है। उन्होंने बताया कि राखी के विशेष लिफाफे या ऐसे सामान्य लिफाफे, जिन पर राखी लिखी होगी, उन्हें अलग बैग में बंद करके भेजा जाएगा। ताकि राखी वाले बैग को बीच रास्ते में न रोका जाए। ऐसा इसलिए किया गया है ताकि भाइयों को राखी समय पर पहुंचाई जा सके। मानसून को ध्यान में रखते हुए लिफाफे को वाटर प्रूफ बनाया गया है। डाक विभाग ने इस खास राखी के लिफाफे की कीमत 10 रुपये रखी है. इसे भेजने के लिए एक अलग डाक टिकट संलग्न करना होगा। भाई-बहन के प्यार की प्रतीक राखी इस लिफाफे से भीगने से खराब नहीं होगी।

राखी कूरियर की लागत (Rakhi Courier Charges) कितनी है?

राखी कोरियर चार्जेस: आपके प्यार को दूर भेजने की राह

राखी कोरियर चार्जेस का महत्व: राखी को अपने भाई के पास पहुंचाने के लिए आपको कोरियर सेवाओं का उपयोग करना पड़ सकता है। यह एक सुरक्षित और आसान तरीका होता है अपने प्यार को बताने का कि आप उन्हें याद कर रहे हैं और उनकी खुशियों में शामिल होना चाहते हैं। कोरियर सेवाओं के माध्यम से राखी को भेजने में विभिन्न चार्जेस लग सकते हैं, जो कुछ मुख्य कारकों पर निर्भर करते हैं:

  1. दूरी: कोरियर चार्जेस आपके और आपके भाई के निवास स्थान के बीच की दूरी पर निर्भर कर सकते हैं। अधिक दूर रहने की स्थिति में, चार्जेस अधिक हो सकते हैं।
  2. वजन: राखी के साथ आने वाले सामग्री के वजन पर भी कोरियर चार्जेस निर्भर करते हैं। अधिक वजन वाले पैकेट्स के लिए अधिक चार्जेस लग सकते हैं।
  3. त्वरितता की आवश्यकता: आपकी राखी की मुख्यता के आधार पर, आपको त्वरितता की आवश्यकता हो सकती है। यदि आप इसे तुरंत पहुंचाना चाहते हैं, तो त्वरित डिलीवरी वाले चार्जेस अधिक हो सकते हैं।
  4. पैकेजिंग: पैकेजिंग की भी महत्वपूर्ण भूमिका होती है। यदि आपकी पैकेजिंग सुरक्षित और मजबूत नहीं है, तो आपको अतिरिक्त सुरक्षा चार्जेस भी चुकाने पड़ सकते हैं।

ब्लू डार्ट ने रक्षा बंधन के शुभ अवसर पर ‘राखी एक्सप्रेस’ अपने सफल वार्षिक अभियान की शुरुआत की, ताकि भाई-बहन त्योहारी सीजन में राखियाँ भेज सकें।

ब्लू डार्ट, भारत के प्रमुख लॉजिस्टिक्स सेवा प्रदाता और डॉयचे पोस्ट डीएचएल ग्रुप (डीपीडीएचएल) का हिस्सा, ने अपने वार्षिक अभियान की शुरुआत की है, ‘राखी एक्सप्रेस,’ जो रक्षा बंधन के शुभ अवसर पर चलाया जा रहा है। इस अभियान के अंतर्गत, भाई-बहनों को आसानी से गिफ्ट्स और ‘राखियाँ’ भेजने का मौका मिल रहा है, जिसमें सुरक्षित और समय पर पहुंचान की गारंटी दी जाती है।

ब्लू डार्ट का ‘राखी एक्सप्रेस’ एक अद्वितीय मूल्ययोग्य सेवा है, जो भारतीय घरेलू बाजार की आवश्यकताओं का पूरा करता है और भारत भर में 35,000 से अधिक स्थानों पर पहुंचने की सुविधा प्रदान करता है, जबकि डीएचएल ‘एक्सप्रेस ईजी राखी’ दुनिया भर के 220 से अधिक देशों और क्षेत्रों में राखियाँ भेजने की सुविधा प्रदान करता है। ये प्रस्ताव भारत के सभी 625 ब्लू डार्ट – डीएचएल रिटेल स्टोरों में उपलब्ध हैं। इस प्रस्ताव के तहत, ग्राहकों को एक विशेष डिज़ाइन की ‘राखी एनवलप’ और एक व्यक्तिगत अभिवादन पत्र मिलता है। लॉजिस्टिक लागत 500 ग्राम तक के पैकेज के लिए भारत में कहीं भी पहुंचने के लिए एक विशेष दर की है, जो 250 रुपये है।

कैसे चुनें सही कोरियर सेवा: सही कोरियर सेवा चुनने से पहले, आपको कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान देना चाहिए:
  1. सुरक्षा: राखी की सुरक्षा हमेशा महत्वपूर्ण होती है। सुनिश्चित करें कि चुनी गई कोरियर सेवा पैकेज को सुरक्षितीकृत तरीके से पहुंचाती है।
  2. त्वरितता: यदि आपको राखी को त्वरिती से पहुंचानी है, तो ऐसी कोरियर सेवा का चयन करें जो त्वरित डिलीवरी प्रदान कर सकती है।
  3. मूल्य: कोरियर चार्जेस के मामूल्य को समझें और अन्य विकल्पों के साथ तुलना करें। सस्ते चार्जेस पर ध्यान देते समय सुनिश्चित करें कि सेवा की गुणवत्ता पर कोई कमी नहीं होती है।
  4. ट्रैकिंग: अच्छी कोरियर सेवा आपको पैकेज की पूरी यात्रा को ट्रैक करने की सुविधा प्रदान करेगी, ताकि आप जान सकें कि आपकी राखी कहाँ पर है।

हर कंपनी की अलग-अलग कीमतें होती हैं, यह इस बात पर निर्भर करता है कि उसका वजन कितना है और वह कितनी बड़ी है। अधिकांश कूरियर कंपनियां एक लिफाफा भेजने के लिए 80 से 100/- के बीच शुल्क लेती हैं। प्रत्येक कूरियर कंपनी की अलग-अलग कीमतें भी हो सकती हैं। India SpeedPost Rakhi Courier Charges Rupess 47/-

Rakhi के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

राखी क्या होती है?

राखी एक परिधानीय आकर्षक धागा होती है जिसे बहन अपने भाई की कलाई पर बांधती है। यह परंपरागत रूप से भारत में रक्षाबंधन के दिन मनाई जाती है।

रक्षाबंधन क्या है?

रक्षाबंधन एक हिन्दू पर्व है जिसमें बहने अपने भाइयों की रक्षा करने के लिए राखी बांधती हैं और उन्हें शुभकामनाएं देती हैं। इसका मतलब होता है “रक्षा का बंधन”।

राखी कब मनाई जाती है?

राखी पूर्णिमा के दिन आने वाले हिन्दू मास श्रावण के महीने में मनाई जाती है, जो जुलाई या अगस्त के आसपास होता है।

रक्षाबंधन का महत्व क्या है?

रक्षाबंधन एक परिवारिक और सामाजिक आदर्श है, जो भाई-बहन के प्रेम और सद्भावना का प्रतीक होता है। इसे भाई अपनी बहन की सुरक्षा और कल्याण की प्रतिज्ञा के रूप में लेते हैं।

राखी उत्सव कैसे मनाया जाता है?

रक्षाबंधन के दिन बहन राखी बांधती है और भाई उसे उपहार देता है। इसके साथ ही, खान-पान का आनंद लिया जाता है और परिवार में मिलनसर का आयोजन किया जाता है।

राखी के साथ क्या उपहार दिये जा सकते हैं?

राखी के साथ चॉकलेट, मिठाई, गहने, पैसे, कपड़े, अथवा भाई की पसंदीदा चीजें जैसे की बुक्स, वैटमिन शॉट, वीडियो गेम्स, आदि का उपहार दिया जा सकता है।

क्या राखी सिर्फ हिन्दू पर्व है?

जी हां, राखी प्रायः हिन्दू समुदाय में मनाई जाती है, लेकिन इसका महत्व और संकेतिकता कई समुदायों में भी महत्वपूर्ण हो सकता है।

राखी कोरियर सेवा का उपयोग क्यों किया जाता है?

राखी कोरियर सेवा का उपयोग तब किया जाता है जब आप अपनी बहन के पास नहीं हो सकते और आप उसे राखी और उपहार भेजना चाहते हों। यह दूरस्थान पर रहने वाले परिवार के सदस्यों के बीच जुड़ाव और प्यार दिखाने का एक तरीका हो सकता है।

राखी कोरियर सेवा के लिए कितना खर्च आता है?

राखी कोरियर सेवा की लागत आपके चयनित कोरियर कंपनी और उपहार की मात्रा के आधार पर भिन्न हो सकती है। आपको उनकी वेबसाइट पर जाकर निर्धारित शुल्क और अन्य लागतों की जानकारी प्राप्त करनी चाहिए।

राखी कोरियर सेवा कितने समय में पहुंचती है?

पहुंचने का समय कोरियर कंपनी और गंतव्य स्थान के आधार पर भिन्न हो सकता है। आमतौर पर, राखी कोरियर सेवा की मद्देनजर, दो से पांच दिनों में पहुंच सकती है, लेकिन यह आपके चयनित कंपनी और गंतव्य स्थान के आधार पर भी बदल सकता है।

राखी कोरियर सेवा की लागत कैसे निर्धारित होती है?

राखी कोरियर सेवा की लागत कंपनी, गंतव्य स्थान, उपहार की मात्रा, और विशेष आवश्यकताओं के आधार पर निर्धारित होती है। आपके चयनित कोरियर सेवा प्रदाता की वेबसाइट पर आपको लागतों के संबंधित जानकारी मिलेगी।

क्या राखी कोरियर सेवा अंतरराष्ट्रीय में भी उपलब्ध है?

जी हां, कई कोरियर कंपनियाँ अंतरराष्ट्रीय रूप से राखी कोरियर सेवाएं प्रदान करती हैं। आपके चयनित कंपनी की वेबसाइट पर आपको विभिन्न देशों में डेलीवरी के लिए विकल्प मिलेंगे।


आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं और आप अपने सुझाव भी हमारे साथ साझा कर सकते हैं।

By Puneet Singh

Hello, friend! I’m Puneet Singh Tandi Gurera, the proud founder of CNSTrack. I welcome you to our dedicated space where we explore the world of blogging and offer comprehensive logistics solutions.